Blogs


Home / Blog Details
    • cal27-September-2022 adminAkanksha Dubey

      नवरात्रि 9 के दिनों के लिए आसान और हेल्दी रेसिपी

    • ये साल के सबसे प्रतीक्षित नौ दिन हैं! नवरात्रि एक हिंदू त्यौहार है और इसे बहुत उत्साह के साथ मनाया जाता है। यह त्यौहार बुराई पर अच्छाई की जीत पाने की ख़ुशी में मनाया जाता है जो कि हिंदू पौराणिक कथाओं में वर्णित है।

      नवरात्रि शब्द का अर्थ है, नौ रातें! इन नौ दिनों के दौरान, भक्त देवी दुर्गा के नौ दिव्य रूपों को पूजते हैं।

      नवरात्रि में कई सूक्ष्म मौसमी परिवर्तन भी होते हैं। इसके अलावा, यह त्यौहारों की शुरुआत का भी प्रतीक है, इसके बाद दशहरा, दिवाली, क्रिसमस और भी कई त्यौहार आते हैं।

      नवरात्रि के दौरान, भक्त माँ दुर्गा का आशीर्वाद पाने के लिए नौ दिनों तक उपवास करते हैं। हालांकि, कुछ लोग जोड़े में उपवास रखते हैं: पहले दो दिन या आखिरी दो दिन।

      व्रत भी कई तरह के होते हैं। उदाहरण के लिए, कुछ लोग केवल पानी लेते हैं, कुछ फलों का सेवन करते हैं, और कुछ लोग प्रतिदिन एक बार भोजन करते हैं। जबकि उत्सव की सभी दावतें बहुत स्वादिष्ट होती हैं, व्रत या उपवास के लिए उपयोग की जाने वाली सीमित खाद्य सामग्री इसे थोड़ा अनोखा बना देती हैं। विभिन्न प्रकार के स्वाद और पौष्टिक गुणों को शामिल करना त्योहारों को अधिक सुखद और स्वस्थ बनाने का एक शानदार तरीका है।

      तो आज हम नवरात्रि के पावन त्यौहार पर कुछ पुराने व्यंजनों को छोड़ कर नए स्वास्थ्य वर्धक व्यंजनों को आजमाएंगे। यहां हमने नवरात्रि को अधिक सुखद और स्वस्थ बनाने के लिए 9 स्वस्थ व्यंजनों को सूचीबद्ध किया है।

      9 स्वस्थ व्यंजन 

      1. साबूदाना खिचड़ी की रेसिपी

      2. मखाना खीर की रेसिपी

      3. श्रीखंड रेसिपी

      4. जीरा आलू की रेसिपी

      5. फ्रूट रायता की रेसिपी

      6. साबूदाना खीर की रेसिपी

      7. राजगिरी लड्डू की रेसिपी

      8. साबूदाना टिक्की की रेसिपी

      9. बादाम हलवा की रेसिपी

      1. साबूदाना खिचड़ी पकाने की रेसिपी

      साबूदाना खिचड़ी सबसे प्रसिद्ध उपवास व्यंजनों में से एक है। इसे मोती साबूदाना, उबले आलू, भुनी हुई मूंगफली और कुछ फलाहारी मसालों से बनाया जाता है। इसका मुख्य रूप से नवरात्रि, एकादशी और महाशिरात्रि जैसे उपवासों के दौरान सेवन किया जाता है।

      सामग्री

      • साबूदाना - 1 कप
      • पानी -  ¾ कप
      • मूंगफली - ½ कप
      • घी - 2 बड़े चम्मच
      • जीरा - 1 छोटा चम्मच
      • अदरक - 1 इंच (बारीक कटा हुआ)
      • आलू - 1 (उबला और घिसा हुआ)
      • नींबू - ½ जूस
      • धनिया - 2 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)
      • कुछ करी पत्ते
      • सेंधा नमक स्वादानुसार
      • चीनी स्वादानुसार

      व्यंजन विधि

      1. साबूदाने को एक चौड़े प्याले में भिगो कर रख दीजिये।

      2. साबूदाने से अतिरिक्त स्टार्च को हटाने के लिए साबूदाना अच्छे से 2 बार धोएं।

      3. इसे छह घंटे के लिए अलग रख दें। ध्यान रखें, भिगोने का समय साबूदाने की गुणवत्ता के आधार पर अलग-अलग होता है।

      4. एक बार साबूदाना भीगने के बाद, जांच लें कि कहीं पानी ना रह गया हो, और उंगलियों के बीच दबाए जाने पर यह आसानी से मैश होना चाहिए।

      5. एक पैन में मूंगफली को धीमी आंच पर कुरकुरे होने तक भून लें। 

      6. मूंगफली का पाउडर बनाने के लिए इन्हें ठंडा करके मिक्सर का उपयोग करके पाउडर बना ले।  

      7. भीगे हुए साबूदाने में मूंगफली का पाउडर, नमक और चीनी डाल दीजिए। 

      8. इसे अच्छे से मिलाकर एक तरफ रख दें।

      10. एक पैन में 2 छोटी चम्मच घी और 1 छोटी चम्मच जीरा और कुछ करी पत्ते डालकर गर्म करें।

      11. 1 इंच अदरक, 2 मिर्च और 1 आलू डालकर सुनहरा होने तक भून लें।

      12. साबूदाना मूंगफली का मिश्रण डालें और अच्छे से मिलाएँ। इससे साबूदाना मिश्रण चिपक नहीं पायेगा।

      13. इसे आराम से मिलाएं, नहीं तो साबूदाने के मैश होने की संभावना है।

      14. साबूदाने मोती पारदर्शी होने तक पकाएं।

      15. धनिया और नींबू का रस डालकर सर्व करें।

      पोषण मूल्य 

      • कैलोरी - 128.3 किलो कैलोरी
      • कार्बोहाइड्रेट - 5.3 ग्राम
      • प्रोटीन - 3.6 ग्राम
      • फैट्स - 11.3 ग्राम
      • कोलेस्ट्रॉल - 12.6 मिलीग्राम
      • सोडियम - 298 मिलीग्राम
      • पोटेशियम - 192 मिलीग्राम
      • फाइबर - 1.6 ग्राम
      • कैल्शियम - 30 मिलीग्राम
      • आयरन - 1.3 मिलीग्राम

      2. मखाना खीर की रेसिपी

      चूंकि मखाने कैल्शियम और एंटी-इन्फ्लैमटॉरी प्रॉपर्टीज से भरपूर होते हैं, इसलिए इन्हे पारंपरिक भारतीय व्यंजनों में एक सुपरफूड माना जाता है। सबसे अच्छी बात यह है कि मखाने को मीठे और नमकीन दोनों व्यंजनों में शामिल किया जा सकता है, और ये हमेशा अधिक पोषण प्रदान करते हैं।

      मखाने की खीर त्यौहारों के अवसर के लिए पुराने समय से चली आरही पौराणिक मिठाई है। इस मिठाई को मखाने (फॉक्स नट्स), दूध और चीनी के साथ तैयार किया जाता है। यह स्वादिष्ट और बनाने में बहुत आसान है।

      सामग्री

      • मखाना - 2 कप
      • दूध - 500 मिली
      • काजू - ½ कप
      • घी - 1 बड़ा चम्मच
      • हरी इलायची - २ से 3 
      • सूखे मेवे, अपनी पसंद अनुसार
      • चीनी स्वादानुसार

      व्यंजन विधि    

      1. मखानों को काजू के साथ घी में हल्का तल कर अलग रख लें।  

      2. ठंडा होने पर आधे मखाने, इलाइची और काजू पीस लें।  

      3. एक पैन में दूध गर्म करें। पिसा हुआ मखाना डालें और धीमी आंच पर लगभग 15-20 मिनट तक पकाएं।

      4. इसे आंच से उतार लें और इसमें सूखे मेवे डालकर सज़ाएं।  

      5. आपकी मखाना खीर तैयार है।  

      6. इसे गरमा गरम या ठंडा परोसें।

      पोषण मूल्य 

      • कैलोरी - 87.5 किलो कैलोरी
      • कार्बोहाइड्रेट - 28.5ग्राम
      • प्रोटीन - 3.75ग्राम
      • फैट्स - 4 ग्राम
      • कोलेस्ट्रॉल - 5.25मिलीग्राम
      • सोडियम - 17 मिलीग्राम
      • पोटेशियम - 188 मिलीग्राम
      • विटामिन ए - 50 आईयू
      • कैल्शियम - 138.5 मिलीग्राम
      • आयरन - 1.4 मिलीग्राम

      3. श्रीखंड रेसिपी

      श्रीखंड एक भारतीय व्यंजन है जो की बहुत पुराने समय से बनता आ रहा है। यह विशेष अवसरों पर परोसा जाने वाली मिठाई है। मान्यताओं के अनुसार, गुजराती और महाराष्ट्रीयनों ने श्रीखंड का आविष्कार किया था।

      बाजार में स्वादिष्ट स्वाद के साथ श्रीखंड की कई किस्में उपलब्ध हैं। हालांकि, घर का बना श्रीखंड सबसे अच्छा होता है और हम इसे कभी भी बना सकते हैं। ये बहुत ही स्वादिष्ट और पौष्टिक मिठाई हैं.

      सामग्री

      • फुल फैट दही - 250 ग्राम
      • दूध - 2-3 बड़े चम्मच
      • कटे हुए मेवे - 2 बड़े चम्मच
      • इलायची पाउडर - 1 चम्मच
      • केसर - 6 से 7 
      • चीनी स्वादानुसार

      व्यंजन विधि

      1. केसर को दूध में 5-8 मिनट के लिए भिगो दें।

      2. दही को मलमल के कपड़े में लपेट कर कुछ देर रख के सारा मट्ठा निकाल दें।

      3. तैयार दही को बांध दें ताकि पानी पूरी तरह से निकल जाए।

      4. दही को एक बाउल में डालकर इसमें चीनी, इलायची और भीगा हुआ केसर डालें।

      5. इसे तब तक अच्छी तरह मिलाएं जब तक कि यह क्रीमी न हो जाए और चीनी पिघल न जाए।

      6. इसमें कटे हुए मेवे डालें और अच्छी तरह मिलाएँ।

      7. इसे दो घंटे के लिए फ्रिज में रख दें।

      8. श्रीखंड तैयार है, आप इसे ठंडा ठंडा परोसें। 

      पोषण मूल्य (100 ग्राम)

      • कैलोरी - 401kcal
      • फैट - 16.2 ग्राम   
      • प्रोटीन - 10.8ग्राम
      • कार्ब्स - 38.9ग्राम
      • कैल्शियम - 525mcg
      • मैग्नीशियम - 47.5 मिलीग्राम
      • फास्फोरस - 325मिलीग्राम

      4. जीरा आलू की रेसिपी

      जीरा आलू उपवास के दौरान हर भारतीय रसोई में बनाया जाने वाला एक विशिष्ट व्यंजन है। यह आलू, जीरा और कई अन्य मसालों को मिलाकर बनाया जाता है जिसका सेवन उपवास के दौरान किया जाता है। आप इसे व्रत की पूरी, रोटी या पराठे के साथ भी खा सकते हैं.

      सामग्री

      • उबले आलू - 200 ग्राम
      • करी पत्ता - 5-6 पत्ते
      • हरी मिर्च - 1 कटी हुई
      • घी - 1 बड़ा चम्मच
      • जीरा - ½ छोटा चम्मच
      • काली मिर्च पाउडर -1 चम्मच
      • अमचूर पाउडर - 1 चम्मच
      • धनिया - 2 बड़े चम्मच
      • मूंगफली का पाउडर - 2 बड़े चम्मच
      • सेंधा नमक, स्वादानुसार 

      व्यंजन विधि

      1. उबले हुए आलू को काट कर अलग रख दें।

      2. एक पैन में घी डालें और इसे कुछ सेकेंड के लिए गर्म होने दें।

      3. इसमें जीरा और करी पत्ता डालें और जीरा का रंग बदलने तक पकाएं।

      4. उबले हुए आलू डालें और 2-3 मिनिट तक अच्छी तरह मिलाएँ।

      5. काली मिर्च पाउडर, सेंधा नमक, कटी हुई हरी मिर्च और मूंगफली पाउडर डालें।

      5. अच्छी तरह मिलाएं और कुछ मिनट के लिए ढककर रख दें।

      6. स्वादिष्ट जीरा आलू परोसने के लिए तैयार है.

      पोषण मूल्य 

      • कैलोरी - 165kcal
      • फैट - 11.4ग्राम
      • प्रोटीन - 1.1ग्राम
      • कार्ब्स - 14.8ग्राम
      • विटामिन ए - 220 एमसीजी
      • विटामिन सी - 14.3 मिलीग्राम
      • फोलिक एसिड - 12 एमसीजी
      • पोटेशियम - 170.2 मिलीग्राम
      • फास्फोरस - 26.7 मिलीग्राम

      5. फ्रूट रायता रेसिपी

      रायता एक पारंपरिक व्यंजन है जिसे दही से बनाया जाता है। ज्यादातर लोग कच्ची कद्दूकस की हुई सब्जियों को कुछ मसालों के साथ इसमें मिलाते हैं। हालांकि, नवरात्रि के नौ दिनों के दौरान, जब लोग उपवास रखते हैं तो फलों का रायता एक साइड डिश के रूप में खाते है।

      रायता फलाहार का स्वाद बढ़ाने वाला और ब्रत में सेहतमंद दोनों हो सकता है। यह न सिर्फ आपको ठंडक पहुंचाएगा बल्कि व्रत के दौरान एसिडिटी को भी दूर रखेगा।

      सामग्री

      • दही - 150 ग्राम
      • केला - 1 मध्यम
      • अनार - ¼कप
      • सेब - ½ कटा हुआ
      • चीनी - ½ छोटा चम्मच
      • लाल मिर्च पाउडर - ⅛छोटा चम्मच
      • जीरा पाउडर स्वादानुसार
      • सेंधा नमक स्वादानुसार

      व्यंजन विधि

      1. दही को प्याले में डालिये और इसे तब तक फेंटिये जब तक मुलायम पेस्ट न बन जाए.

      2. चीनी डालें और घुलने तक मिलाएँ।

      3. अब नमक, लाल मिर्च पाउडर और जीरा पाउडर डालें।

      4. सारे कटे हुए फल डालकर 5-20 मिनट के लिए फ्रिज में रख दें।

      5. ठंडा और स्वादिष्ट फ्रूट रायता परोसने के लिए तैयार है.

      पोषण मूल्य (100 ग्राम)

      • कैलोरी - 163 किलो कैलोरी
      • फैट - 6.8 ग्राम
      • प्रोटीन - 5.2 ग्राम
      • कार्ब्स - 19.9 ग्राम
      • कैल्शियम - 237.3 मिलीग्राम
      • फोलिक एसिड - 21.6 एमसीजी
      • पोटेशियम - 171.4 मिलीग्राम
      • सोडियम - 49.4 मिलीग्राम
      • विटामिन ए - 252.4 एमसीजी

      6. साबूदाना खीर रेसिपी

      नवरात्रि उपवास के दौरान इस मीठे व्यंजन को अधिक खाया जाता है!

      साबुदाना की खीर व्रत के दौरान खायी जाने सबसे प्रसिद्ध व्यंजन है। यह घर पर कम समय में बनाने के लिए एक सरल लेकिन त्वरित और स्वादिष्ट व्यंजन है। यह आसानी से पांच जाती है और यह कार्ब्स से भरपूर होती है।

      सामग्री

      • साबूदाना - ½ कप
      • दूध - 2 कप
      • चीनी - 4-5 बड़े चम्मच
      • केसर - 5-6 किस्में
      • इलायची पाउडर - ½ छोटा चम्मच
      • पानी - 2 कप
      • कटे हुए मेवे - 2-3 बड़े चम्मच
      • किशमिश - ½ बड़ा चम्मच

      व्यंजन विधि

      1. साबूदाने को तब तक पानी से धोएं जब तक कि स्टार्च ठीक से ना धुल जाए।

      2. एक चौड़ा कटोरा लें और साबूदाने को कुछ घंटों के लिए भिगो दें।

      3. एक पैन में दूध गर्म करें। एक उबाल के बाद साबूदाना डालें, गैस धीमी कर दें और साबूदाने को पका लें।

      4. पैन में चीनी डालें और इसे घुलने तक पकने दें।

      5. इलायची और केसर डालकर अच्छी तरह मिला लें।

      6. साबूदाना अच्छे से पक जाये तो चैक कीजिए, फिर कटे हुए मेवा और किशमिश डाल दीजिए.

      7. दूध को पैन में चिपकने से बचाने के लिए यदि आवश्यक हो तो थोड़ा पानी डालें।

      8. स्वादिष्ट साबूदाना खीर परोसने के लिए तैयार है!

      पोषण मूल्य 

      • ऊर्जा - 316 किलो कैलोरी
      • फैट - 13.2 ग्राम
      • प्रोटीन - 6.8 ग्राम
      • कार्ब्स - 35.3 ग्राम
      • कैल्शियम - 283.7 ग्राम

      7. राजगिरी लड्डू की रेसिपी

      राजगिरी उत्तर भारत में काफी लोकप्रिय व्यंजन है, खासकर नवरात्रि के दौरान। यह उपवास के लिए उत्तम व्यंजन है और मुख्य रूप से लड्डू बनाने के लिए उपयोग किया जाता है। इसके अलावा, राजगिरी में अमीनो एसिड इसे पचाने में आसान और नवरात्रि उपवास के दौरान उपयुक्त बनाता है।

      आप राजगिरी के लड्डू को बड़ी मात्रा में तैयार करके स्टोर कर सकते हैं। हालांकि, उन्हें एक एयरटाइट कंटेनर में रखना चाहिए। यह उन्हें नरम होने से बचाता है।

      सामग्री

      • राजगिरी - कप
      • मूंगफली - 1 1/2 टेबल स्पून (कुटी हुई)
      • गुड़ - 1 1/2 टेबल स्पून (पाउडर)

      व्यंजन विधि

      1. एक कड़ाही में पिसा हुआ गुड़ डालें और मध्यम आंच पर रखें। थोड़ा पानी डालें और गुड़ को पूरी तरह से पिघलने दें और चाशनी बना लें।

      2. पैन में राजगिरी के दाने और कुटी हुई मूंगफली डालें। अच्छी तरह से मिलाएं और गुड़ की चाशनी के साथ अच्छी तरह से कोट करें।

      3. 4-5 मिनट तक पकाएं जब तक कि मिश्रण पैन के किनारे ना छोड़ दे।

      4. मिश्रण को ठंडा होने दें (यह हल्का गर्म होना चाहिए)। अब अपने हाथों को पानी से गीला कर लें और मिश्रण की छोटी-छोटी लोइयां बना लें।

      5. मिश्रण से लड्डू बना कर सुखा लें.

      6. लड्डू परोसने के लिए तैयार हैं!

      8. साबूदाना टिक्की की रेसिपी

      साबूदाना कोई अनाज नहीं है, साबूदाना टिक्की एक आदर्श उपवास सामग्री है। यह कार्ब्स और कुछ प्रोटीन से भरपूर होता है और खाने में हल्का होता है। इसके अलावा, साबूदाने को मूंगफली के साथ मिलाने से यह कुरकुरे और स्वादिष्ट बनते हैं।साबूदाना टिक्की आप चाय के समय भी खा सकते हैं और इसे कई तरह से बनाया जा सकता है।

      सामग्री

      • साबूदाना - 1 कप
      • आलू - 2 (उबले और मैश किए हुए)
      • मूंगफली - ½ कप
      • अदरक - ½ कप (पेस्ट)
      • हरी मिर्च - 1 (बारीक कटी हुई)
      • धनिया - 2 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)
      • नींबू का रस - 1 चम्मच
      • तलने के लिए तेल
      • सेंधा नमक स्वादानुसार

      व्यंजन विधि

      1. साबूदाने को पर्याप्त पानी से धोकर 3 घंटे के लिए भिगो दें।

      2. भीगे हुए साबूदाने को एक बड़े प्याले में निकाल लीजिय।  

      3. आलू, मूंगफली, अदरक का पेस्ट, हरी मिर्च, धनिया और नमक डालें।

      4. मिश्रण को हाथ से अच्छी तरह मिला कर मैश कर ले।  

      5. मीडियम साइज की टिक्की बनाकर अप्पे पैन में तल ले।  

      6. गरमा गरम और स्वादिष्ट साबूदाना टिक्की परोसने के लिए तैयार है!

      9. बादाम का हलवा

      बादाम सुपरफूड की श्रेणी में आते हैं। इनमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं और त्वचा संबंधी कई बीमारियों को खत्म करने में आपकी मदद करते हैं। इसके अलावा, उपवास के दौरान, बादाम के हलवे का सेवन आपको अधिक विस्तारित अवधि के लिए संतुष्ट और एनर्जाइज़ बनाए रखेगा।

      सामग्री

      • बादाम - 200 ग्राम
      • घी - 13 बड़े चम्मच
      • चीनी स्वादानुसार

      व्यंजन विधि

      1. बादाम को पानी में आधा उबालकर छील लें।

      2. इन्हें ब्लेंड करके दरदरा पेस्ट बना ले।  

      3. पैन गरम करें और उसमें घी डालें।

      5. बादाम का पेस्ट पैन में डालें और कुछ मिनट के लिए चलाएं।

      6. चीनी डालकर धीमी आंच पर सुनहरा होने तक चलाएं।

      9. स्वादिष्ट और पौष्टिक हलवा परोसने के लिए तैयार है.​​​​​​​

      Toneop के बारे में

      TONEOP एक ऐसा मंच है, जो लक्ष्य-उन्मुख आहार योजनाओं और व्यंजनों की एक विस्तृत श्रृंखला के माध्यम से आपके अच्छे स्वास्थ्य को बेहतर बनाने और बनाए रखने के लिए समर्पित है। यह हमारे उपभोक्ताओं को मूल्य वर्धित सामग्री प्रदान करने का भी इरादा रखता है।

      हमारे आहार योजनाओं, व्यंजनों और बहुत कुछ तक पहुंचने के लिए Toneop डाउनलोड करें।

      Android user- https://bit.ly/ToneopAndroid

      Apple user-   https://apple.co/38ykc9H

       

Your email address will not be published. Required fields are marked *

left img right img