Blogs


Home / Blog Details
    • cal08-December-2022 adminAkanksha Dubey

      मेथी की सब्ज़ी के स्वास्थ्य लाभ और व्यंजन विधि

    • मेथी की सब्ज़ी को मेथी की भाजी के नाम से भी जाना जाता है। यह ताज़ा मेथी की सब्ज़ी स्थानीय बाजारों में आमतौर पर सर्दियों के दौरान दिखाई देती है।

      ट्राइगोनेला फीनम-ग्रेक्यूम, जिसे आमतौर पर मेथी (मेथी) कहा जाता है, फैबेसी प्रजाति कि सब्ज़ी है। यह सर्दियों में औषधि का काम भी करती है।

      सर्दियों में मेथी का उपयोग करके दाल मेथी, मठरी, कुरकुरे परांठे, और स्वादिष्ट स्टर-फ्राई विभिन्न व्यंजन, नमकीन आदि बनाए जा सकते हैं।

      साल में किसी भी समय आप मेथी का सेवन कर सकते हैं। साल भर सूखे मेथी के पत्तों और बीजों का इस्तेमाल सब्ज़ियों को स्वादिष्ट बनाने के लिए किया जाता है। यह एनीमिया जैसी मेडिकल कंडीशंस का इलाज करने और ब्लड प्रेशर, ब्लड प्योरिफिकेशन, कम कोलेस्ट्रॉल, डिटॉक्सिफिकेशन, मधुमेह और ब्लड शुगर को नियंत्रित करने के लिए आयुर्वेद के अनुसार एक औषधि भी है।

      मेथी के बीज, ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करते हैं, भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) द्वारा शोध में दिखाया गया है। इसके अलावा, मेथी एक स्वस्थ और प्राकृतिक न्यूट्रास्यूटिकल है। ये सभी विशेषताएँ मेथी को एक प्रसिद्ध फसल बनाती हैं जिसका अक्सर डाइट में उपयोग किया जाता है।

      आइए मेथी की सब्ज़ी के बारे में अधिक जानते हैं।

      विषयसूची

      1. मेथी क्या है?

      2. मेथी के पोषक तत्व

      3. मेथी के स्वास्थ्य लाभ

      4. मेथी का उपयोग के नुस्खा एवं सुझाव

      5. आहार विशेषज्ञ की सलाह 

      6. निष्कर्ष 

      7. सामान्य प्रश्न

      मेथी क्या है?

      दक्षिणी यूरोप और एशिया में मेथी की प्राकृतिक खेती की जाती है, । सोया जाती की एक औषधि को मेथी कहा जाता है। मेथी के पत्तों और बीजों में तेज स्वाद और सुगंध होती है। यह पूरे भारतीय उपमहाद्वीप, उत्तरी अफ्रीका और भूमध्य क्षेत्र में उगाई जाती है।

      मेथी का उपयोग मसाले के रूप में, ताज़ी पत्तियों (सब्ज़ियों) के अलावा अन्य चीजों (बीज) के रूप में किया जाता है। हालांकि मेथी के पत्तों और बीजों का स्वाद कड़वा होता है, लेकिन हल्का भूनने या पकाने पर वे कम कड़वे हो जाते हैं।

      इनमें थायमिन जैसे विटामिन उचित मात्रा में पाए जाते हैं। लोग इसके बीजों, पत्तियों, टहनियों और जड़ों का उपयोग मसाले, स्वाद और सप्पलीमेंट के रूप में करते हैं।

      आईसीएमआर और एनआईएन के कुछ अध्ययनों से पता चला है कि मेथी के विभिन्न स्वास्थ्य लाभ होते हैं। फिर भी, इसकी पुष्टि के लिए अतिरिक्त शोध की आवश्यकता है।

      मेथी के पोषक तत्व

      गठिया के इलाज में मेथी के पत्तों का उपयोग दुनिया भर में प्रसिद्ध है। ऐसा इसलिए क्योंकि दिन में दो बार मेथी के पत्तों का सेवन करने से आँतों की सफाई होती है और शरीर का वेस्ट बाहर निकल जाता है। इसके अलावा, पत्ते और बीजों में प्रोटीन की मात्रा अधिक होते हैं और डाइटरी फाइबर का एक बड़ा स्रोत होते हैं।

      मेथी के पत्तों में कुछ आवश्यक विटामिन और पोषक तत्व फोलिक एसिड, थायमिन, विटामिन ए, बी6 और सी, राइबोफ्लेविन और नियासिन हैं। अन्य घटकों में, मेथी के पत्तों में कैल्शियम, आयरन, फास्फोरस और पोटेशियम की बड़ी मात्रा होती है। मेथी के पत्तों में विटामिन के भी मौजूद होता है।

      मेथी के लगभग 100 ग्राम पत्तों में पोषक तत्वों की मात्रा:

      • कैलोरी - 49 Kcal
      • कार्बोहाइड्रेट - 6 g
      • प्रोटीन - 4.4 g
      • कुल फैट - 0.9 g
      • आहार फाइबर - 1.1 g
      • कैल्शियम - 395 mg
      • लोहा - 1.93 mg
      • फास्फोरस - 51 mg
      • कॉपर - 0.26 mg
      • मैग्नीशियम - 59 mg
      • विटामिन ए - 1%
      • विटामिन सी - 5%
      • विटामिन बी2 - 0.28 mg

      मेथी के स्वास्थ्य लाभ

      मेथी में बड़ी मात्रा में ट्राइगोनेलाइन, लाइसिन और एल-ट्रिप्टोफैन होता है। इसके अलावा, बीजों में सैपोनिन्स और फाइबर का एक बड़ा हिस्सा भी होता है, जो मेथी के कई स्वास्थ्य लाभों का एक कारक है। निम्नलिखित कुछ स्वास्थ्य लाभ हैं जिनके लिए मेथी का ऐतिहासिक रूप से उपयोग किया जाता रहा है।

      1. वज़न घटाने में मदद करती है

      मेथी एक स्वस्थ आहार और व्यायाम के साथ वज़न घटाने में सहायता करती है। इस औषधि की अस्थायी ऊर्जा वृद्धि, असंतुष्टि, और कार्बोहाइड्रेट मेटाबॉलिज़्म में संभावित परिवर्तन वज़न घटाने के रूप में मिलकर काम करते हैं।

      2. कोलेस्ट्रॉल कम करती है

      मेथी में सैपोनिन्स होते हैं जो फैटी डाइट से शरीर द्वारा अवशोषित किए जाने वाले कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करते हैं। विशिष्ट शोध के अनुसार, सैपोनिन शरीर में कुल और एलडीएल या खराब कोलेस्ट्रॉल के उत्पादन को कम करने में भी मदद करते हैं।

      3. मधुमेह और ब्लड शुगर को नियंत्रित करता है

      अब तक केवल मेथी में अमीनो एसिड (4HO-Ile), खोजा गया है, इसमें हाइपरग्लाइसेमिक परिस्थितियों में इंसुलिन उत्पादन में सुधार और इंसुलिन संवेदनशीलता में वृद्धि करके मधुमेह रोधी विशेषताएँ हो सकती हैं।

      चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने टाइप 1 और टाइप 2 मधुमेह के लिए मधुमेह उपचार के अतिरिक्त 4HO-Ile की क्षमता पर प्रकाश डाला है। यह मधुमेह को प्रबंधित करने वाले बेहतरीन 10 खाद्य पदार्थों में से एक है।

      4. ब्रेस्ट मिल्क प्रोडक्शन को बढ़ाती है

      प्राचीन काल से, मेथी का उपयोग हर्बल गैलेक्टागॉग या औषधि के रूप में किया जाता रहा है जो दूध उत्पादन को बहती है। स्तन के दूध उत्पादन को बढ़ाने के लिए मेथी का उपयोग ऐतिहासिक रूप से माताओं द्वारा किया जाता रहा है।

      5. पाचन में सहायता करती है

      मेथी हार्ट बर्न या एसिड रिफ्लक्स के लिए एक शक्तिशाली औषधि है क्योंकि मेथी के बीज के बलगम को गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल जलन को शांत करने और पेट की चर्बी को कम करने के लिए खाया जाता है।

      मेथी का उपयोग करने के स्वस्थ सुझाव

      1. मेथी की रोटी या पराठा

      यह तरीका अधिक मेथी के पत्तों का सेवन करने के बेहतरीन तरीकों में से एक है। ताज़ी मेथी के पत्तों के इस्तेमाल से रोटी या परांठे का स्वाद बढ़ जाता है। आटा गूंथते समय आप कसूरी मेथी या ताज़ी मेथी के पत्तों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

      आटा बनाने के लिए गेहूं का आटा, हरी मिर्च, ताज़ा कसा हुआ अदरक या अदरक का पेस्ट, ताज़ी कटी मेथी के पत्ते, और थोड़े पानी की आवश्यकता होती है। स्वाद को बेहतर बनाने के लिए आप आटा गूंथते समय 1-2 चम्मच दही भी मिला सकते हैं।

      नमक और लाल मिर्च पाउडर के साथ आटे को स्वादानुसार सीज़न करना याद रखें। आटा गूथने के बाद थोड़े से सूखे आटे का प्रयोग कर घी से रोटी या परांठे बना लीजिये। इसे अचार या दही के साथ सर्व करें।

      2. मेथी का साग

      मेथी के पत्तों से बनायी जाने वाली यह सबसे दिलचस्प रेसिपी में से एक है। पालक या सरसों के साग के समान, यह व्यंजन पूरी तरह से मेथी के पत्तों से बनाया जाता है और मधुमेह रोगियों के लिए फायदेमंद माना जाता है।

      इस लाजवाब साग रेसिपी में ताज़े मेथी के पत्ते, अदरक-लहसुन-हरी मिर्च का पेस्ट, टमाटर, प्याज़ और असली की ज़रूरत होती है। क्योंकि यह स्वाद में बहुत अच्छी होती है, इस भोजन को तैयार करने के लिए सरसों के तेल का उपयोग किया जाता है। यह मिस्सी रोटी या सादी रोटी के साथ बहुत अच्छी लगती है।

      3. मेथी पनीर

      इस व्यंजन के सूखे और करी दोनों दोनोरूपों में बनाया जा सकता है। अगर आप करी बना रहे हैं तो आपको पनीर, प्याज, टमाटर, अदरक-लहसुन का पेस्ट, हरी मिर्च का पेस्ट और कई तरह के मसालों की भी जरूरत पड़ेगी. कसूरी मेथी के साथ, आप स्वाद बढ़ाने के लिए दूध और काजू का पेस्ट मिला सकते हैं।

      4. मेथी चिकन

      मेथी चिकन घर पर बनाने में आसान डिश है जो स्वादिष्ट और सेहतमंद दोनों है। कुछ लोग इस व्यंजन को बनाते समय कसूरी मेथी या ताज़ी मेथी की पत्तियाँ इस्तेमाल करते हैं।

      यह भोजन, जिसे मेथी मुर्ग के नाम से भी जाना जाता है, चिकन, ताज़ी कटी हुई मेथी की पत्तियों, प्याज-टमाटर का पेस्ट, अदरक-लहसुन-हरी मिर्च का पेस्ट, लाल मिर्च पाउडर, धनिया पाउडर, नमक और ताज़ी मेथी से बनाया जाता है।

      5. मेथी की चटनी

      यह दक्षिण भारतीय शैली की चटनी ताज़ी मेथी की पत्तियों, गुड़, इमली, लहसुन, लाल मिर्च, नमक और अन्य मसालों से बनाई जाती है। यह चटनी रोटी, परांठे, सादे चावल और यहाँ तक ​​कि इडली के साथ भी अच्छी लगती है। इसका स्वाद मीठा और खट्टा होता है।

      6. मेथी सलाद

      मेथी के पत्तों को थोड़े से प्याज के साथ थोड़े से तेल में पकाया जा सकता है. फिर, स्वाद बढ़ाने के लिए मसाले, गुड़, कटे हुए टमाटर और नींबू डाले जाते हैं।

      7. मेथी का सूप

      आप सर्दियों की शाम में मेथी का सूप पी सकते हैं यह स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है इसकी तासीर गर्म होती है इसीलिए इसे सर्दियों में पिया जाता है। इसे बनाने के लिए ताज़ी मेथी के पत्ते, टमाटर, प्याज़ और कुटी हुई काली मिर्च का इस्तेमाल किया जाता है।

      आहार विशेषज्ञ की सलाह 

      मेथी के पत्ते कैलोरी में कम और सॉल्युबल फाइबर से भरपूर होते हैं। क्योंकि ये पत्तियाँ व्यक्तियों को अधिक समय तक तृप्त महसूस कराती हैं, यह डाइट करने वाले लोगों या अपने कैलोरी सेवन को सीमित करने वाले लोगों के लिए बेहतरीन विकल्प हैं।

      आप संतुष्ट महसूस करने के अलावा हार्ट बर्न के लक्षणों को कम कर सकते हैं। आईसीएमआर की एक जांच में मेथी के असर की तुलना एंटासिड दवाओं से की गई थी। इसलिए, मेथी आमतौर पर आपके स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करती है।                                                        

              -डाइटीशियन अक्षता गांडेविकर

      निष्कर्ष 

      सबसे पुराने औषधीय पौधों में से एक, मेथी के पत्तों का उपयोग बहुत लंबे समय से कई तरह की चीजों के लिए किया जाता रहा है। मेथी के पूरे पौधे में चिकित्सीय गुण होते हैं।

      यह एक पाक औषधी के रूप में दुनिया भर में प्रसिद्ध है। मेथी के बीजों में स्वाद बढ़ाने वाले गुण भी होते हैं। मेथी की शानदार हरी पत्तियों का उपयोग विभिन्न पौष्टिक व्यंजन बनाने के लिए किया जाता है।

      अपने आहार में मेथी की सब्ज़ियों को शामिल करने से आपको चमत्कारी स्वास्थ्य लाभ मिल सकते हैं।

      सामान्य प्रश्न

      1. मेथी को बालों पर कैसे इस्तेमाल किया जा सकता है?

      नहाने से पहले मेथी के पत्ते के पेस्ट से सिर की मालिश की जा सकती है। यह रूसी का इलाज करता है, बालों के विकास को बढ़ाता है, प्राकृतिक रंग बनाए रखता है और बालों को चिकना रखता है।

      2. क्या गर्भवती महिलाएं मेथी का सेवन कर सकती हैं?

      गर्भावस्था के दौरान मेथी के सेवन से बचना चाहिए क्योंकि इससे गर्भपात हो सकता है। इसके अतिरिक्त, यह संतान में जन्म असामान्यताओं से जुड़ा हुआ है। इसलिए गर्भवती होने पर मेथी से पूरी तरह से बचना चाहिए। गर्भवती होने पर उसका उपयोग करने से पहले, हेल्थ एक्सपर्ट से परामर्श करना बेहतर होता है।

      3. मेथी या पालक में से क्या ज़्यादा बेहतर है?

      पालक और मेथी की पत्तियों में पोषक तत्वों की मात्रा लगभग बराबर होती है। यदि आप प्रोटीन लेना चाहते हैं तो मेथी बेहतर है। फिर भी, यदि आप अपने कैलोरी सेवन पर ध्यान दे रहे हैं तो पालक बेहतर है।

      4. क्या मेथी के पत्ते थायराइड स्वास्थ्य को लाभ पहुँचाते हैं?

      मेथी के पत्तों के लिए कोई ज्ञात निषेध नहीं है, यह बेहतर है कि उन्हें केवल थोड़ी मात्रा में ही खाया जाए क्योंकि मेथी थायराइड की दवा में हस्तक्षेप करने के लिए जानी जाती है।

      5. क्या मेथी की अधिक मात्रा खतरनाक हो सकती है?

      दस्त, मतली, और अन्य पाचन तंत्र के लक्षण, साथ ही साथ सिरदर्द और चक्कर आना, मेथी के दुष्प्रभाव हो सकते हैं। मेथी का ज़्यादा सेवन करने पर ब्लड शुगर के स्तर में गिरावट हो सकती है। 

      6. क्या मेथी हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाती है?

      प्रतिदिन मेथी के दानों को डाइटरी सप्लीमेंट के रूप में लेना सुरक्षित है। सरल तरीकों से हीमोग्लोबिन बढ़ाने के सकारात्मक परिणाम होते हैं। यह एनीमिया को रोकने और इलाज करने और स्वास्थ्य को बनाए रखने में भी मदद करती है।

      Toneop के बारे में

      TONEOP एक ऐसा मंच है, जो लक्ष्य-उन्मुख आहार योजनाओं और व्यंजनों की एक विस्तृत श्रृंखला के माध्यम से आपके अच्छे स्वास्थ्य को बेहतर बनाने और बनाए रखने के लिए समर्पित है। यह हमारे उपभोक्ताओं को मूल्य वर्धित सामग्री प्रदान करने का भी इरादा रखता है।

      हमारे आहार योजनाओं, व्यंजनों और बहुत कुछ तक पहुंचने के लिए Toneop डाउनलोड करें।

      Android user- https://bit.ly/ToneopAndroid

      Apple user-   https://apple.co/38ykc9H

Your email address will not be published. Required fields are marked *

left img right img