Blogs


Home / Blog Details
    • cal03-March-2023 adminAkanksha Dubey

      मखाने के साथ दूध के स्वास्थ्य लाभ और व्यंजन विधि

    • दूध और मखाना पोषक तत्वों की उत्कृष्ट संरचना के साथ अत्यधिक पौष्टिक खाद्य पदार्थ हैं। दूध और मखाने का एक साथ सेवन करने से हड्डियाँ मज़बूत होती हैं।  दूध में विटामिन D, प्रोटीन और कैल्शियम के भरपूर गुण होते हैं। मखाने में कैलोरी और फैट की मात्रा कम होती है। इसमें प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम, मैग्नीशियम और एंटीऑक्सीडेंट जैसे पोषक तत्व होते हैं। 

      और अधिक स्वास्थ्य लाभों को जानने के लिए हम ToneOp के इस ब्लॉग में दूध मखाना रेसिपी के बारे में पढ़ते हैं। 

      विषयसूची

      1. मखाने के साथ दूध के फायदे

      2. मखाने के साथ दूध का सेवन कैसे करें?

      3. दूध और मखाना की व्यंजन विधि

      4. आहार विशेषज्ञ की सलाह 

      5. निष्कर्ष 

      6. सामान्य प्रश्न

      मखाने के साथ दूध के फायदे

      1. ह्रदय के लिए फायदेमंद

      मखाना में एक अल्कलॉइड तत्व होता है जिसमें विशिष्ट पोषक तत्व होते हैं जो शारीरिक स्वास्थ्य को बढ़ाने में मदद करते हैं और ह्रदय से संबंधित जोखिमों से बचाव करते हैं।

      2. पाचन में सहायता करता है

      मखाना एंटीऑक्सीडेंट और फाइबर से भरपूर होता है और दूध प्रोटीन, मिनरल और विटामिन का प्रमुख स्रोत है। इसलिए कब्ज़, पेट फूलना और पेट दर्द जैसी समस्याएँ एक साथ होने पर कम हो जाती हैं। इसके अलावा यह आपकी भूख को संतुष्ट रखता है।

      3. जोड़ को स्वस्थ रखता है 

      दूध और मखाना दोनों में कैल्शियम पर्याप्त मात्रा में होता है। साथ ही दूध में विटामिन D होता है। इसके एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण शरीर और जोड़ों में सूजन और दर्द को कम करने में मदद करते हैं।

      4. त्वचा को लाभ पहुँचाता है

      मखाना में एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-एजिंग गुण होते हैं, जो फ्री रेडिकल्स से बचाते हैं और कोलेजन बनाने में मदद करते हैं। दूध में विटामिन A, D और लैक्टिक एसिड त्वचा के स्वास्थ्य को लाभ पहुँचाता है। इन दोनों का एक साथ सेवन करने से त्वचा में लोच और हाइड्रेशन बना रहता है।

      5. प्रोटीन से भरपूर

      दूध और मखाना दोनों में अच्छी मात्रा में प्रोटीन होता है। शरीर के विकास, सेल्स की रिपेयरिंग और इम्यून सिस्टम के नियमन के लिए भी प्रोटीन की आवश्यकता होती है। रोज़ाना दूध और मखाने का सेवन करने से पौष्टिक तत्वों की कमी दूर हो जाती है।

      6. बालों के लिए फायदेमंद

      दूध और मखाने में विटामिन E, मैग्नीशियम, अमीनो एसिड, सेलेनियम, विटामिन B12, लिनोलिक एसिड, बीटा-कैरोटीन और ज़िंक जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। इससे बाल झड़ने और बाल पतले होने जैसी समस्याएँ कम होती हैं।

      7. ब्लड शुगर प्रबंधन

      मखाना एंटी-डायबिटिक गुणों से भरपूर होता है। इसलिए मखाने को दूध में मिलाकर खाने से मधुमेह नियंत्रित रहता है। ध्यान रहे कि शुगर के मरीज इसमें चीनी या किसी भी तरह की स्वीटनर का सेवन न करें।

      8. थकान और कमज़ोरी दूर करता है

      दूध और मखाना दोनों ही पोषक तत्वों के पावरहाउस हैं, इसलिए इन दोनों के सेवन से शरीर को ऊर्जा मिलती है और कमज़ोरी कम होती है।

      9. अनिद्रा में मदद करता है

      अनिद्रा की समस्या में मखाने का सेवन फायदेमंद होता है। दूध पीने से भी नींद न आने की समस्या दूर होती है। इसलिए मखाने को दूध में मिलाकर रात के समय सेवन करने से अनिद्रा की शिकायत दूर होती है।

      10. एनीमिया में लाभकारी

      दूध और मखाना दोनों ही आयरन के समृद्ध स्रोत हैं। इसलिए इन दोनों के सेवन से शरीर में आयरन की कमी दूर हो जाती है जिससे एनीमिया ठीक होने लगता है।

      दूध के साथ मखाने का सेवन कैसे करें?

      • कच्चे मखाने को आप सीधे दूध के साथ खा सकते हैं। 
      • मखानों को दूध में उबाल कर भी खाया जा सकता है। 
      • दूध और मखाने की खीर भी बनाई जा सकती है। स्वाद बढ़ाने के लिए इस खीर में ड्राई फ्रूट्स भी डाले जा सकते हैं। 
      • मखाना दूध दलिया बना सकते हैं। 
      • दूध और मखाना को अन्य सामग्री के साथ हलवा या कस्टर्ड में परिवर्तित किया जा सकता है।

      दूध और मखाने की व्यंजन विधि 

      मखाने के साथ दूध एक स्वादिष्ट और पौष्टिक पेय है। इसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं। यह बच्चों, युवकों और बुज़ुर्गों के लिए उपयुक्त होता है।

      सामग्री

      • दूध- 250 ml
      • मखाना - 1 कप
      • स्टीविया - आवश्यकतानुसार

      व्यंजन विधि

      1. एक गिलास दूध में थोड़े मखाने डालें। इसे रात भर भिगोकर फ्रिज में स्टोर करें।

      2. सुबह इसे स्टीविया के साथ या इसके बिना उबालें ।

      3. अपने स्वाद के अनुसार स्टीविया डालें। 

      4. वैकल्पिक रूप से, शहद के साथ परोसें। सुबह खाने के लिए यह सबसे अच्छी चीज़ है।

      आहार विशेषज्ञ की सलाह 

      मखाना युक्त दूध आपकी हड्डियों और दांतों के लिए अच्छा होता है। क्योंकि यह कैल्शियम में उच्च होता है, ऑस्टियोपोरोसिस और ऑस्टियोआर्थराइटिस के लिए भी मदद करता है, ये दो प्रमुख समस्याएँ हैं जो आज युवा वयस्कों में भी आम होती जा रही हैं। इस दूध को दिन में दो बार या दिन में कम से कम एक बार पीने से आपको शारीरिक मज़बूती बनाये रखने में मदद मिलेगी। और अगर इसे नियमित रूप से लिया जाए, तो इससे हमारे बच्चों और युवकों को भी लाभ होगा। इसे पीना वास्तव में एक आदत बना लेनी चाहिए क्यूंकि यह अधिक लाभ प्रदान करता है। 

      निष्कर्ष 

      दूध और मखाना दोनों ही आयरन, कैल्शियम, फॉस्फोरस और पोटैशियम जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। इसलिए मखाने में दूध मिलाकर खाने से दिल से जुड़ी समस्याओं या जोड़ों से जुड़ी समस्याओं से राहत देते हैं। साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि डाइट में किसी भी तरह का बदलाव करने से पहले डॉक्टर या रजिस्टर्ड डायटीशियन से सलाह ज़रूर लें।

      सामान्य प्रश्न

      1. क्या मखाना सूजन की स्थिति के लिए अच्छा है?

      इसके एंटीऑक्सिडेंट गुण सूजन को भी कम कर सकते हैं, जिससे रूमटॉइड आर्थराइटिस, गाउट, सोरायसिस और सूजन आंत्र रोग जैसी इंफ्लेमेटरी बोवेल डिसीज़ में लाभ हो सकता है।

      2. मखाना के दुष्प्रभाव क्या हैं?

      मखाना के बीज एलर्जी, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं और इंसुलिन के स्तर में वृद्धि कर सकते हैं। यदि ये खाने में आजाये, तो इससे कब्ज़ और सूजन बढ़ सकती है।

      3. क्या मखाना लिवर के लिए फायदेमंद है?

      आयुर्वेद के अनुसार मखाना आपको वज़न कम करने और किडनी को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है। कई अध्ययनों के अनुसार मखाना लिवर की सफाई करके मेटाबॉलिज़्म को बढ़ाता है।

      4. क्या मखाना किडनी के मरीजों के लिए सुरक्षित है?

      कम नमक वाला आहार ब्लड प्रेशर नियंत्रित करता है और तनाव कम करता है, ये सभी किडनी के स्वास्थ्य में योगदान करते हैं। ये सभी मखाने द्वारा प्रदान किए जाते हैं। इसके अलावा मखाना आपके शरीर को बार-बार पेशाब आने में असमर्थता या किडनी डिसऑर्डर को दूर करने में मदद कर सकता है।

      5. क्या मखाना थायराइड के लिए फायदेमंद है?

      कई अन्य नट्स की तरह, मखाना सेलेनियम का एक शानदार स्रोत है। इंटरनेशनल जर्नल ऑफ़ एंडोक्रिनोलॉजी में 2017 की समीक्षा में पाया गया कि सेलेनियम थायरॉइड फ़ंक्शन को स्वस्थ रखता है। इसलिए मखाना थायराइड से जुड़ी समस्याओं को कम करने में मदद कर सकता है।

      Toneop के बारे में

      TONEOP एक ऐसा मंच है, जो लक्ष्य-उन्मुख आहार योजनाओं और व्यंजनों की एक विस्तृत श्रृंखला के माध्यम से आपके अच्छे स्वास्थ्य को बेहतर बनाने और बनाए रखने के लिए समर्पित है। यह हमारे उपभोक्ताओं को मूल्य वर्धित सामग्री प्रदान करने का भी इरादा रखता है।

      हमारे आहार योजनाओं, व्यंजनों और बहुत कुछ तक पहुंचने के लिए Toneop डाउनलोड करें।

      Android userhttps://bit.ly/ToneopAndroid

      Apple user-   https://apple.co/38ykc9H

Your email address will not be published. Required fields are marked *

left img right img