घर पर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कैसे कम करें?

Health

Updated-on

Published on: 09-Feb-2023

Min-read-image

10 min read

views

323 views

profile

Akanksha Dubey

Verified

घर पर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कैसे कम करें?

घर पर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कैसे कम करें?

share on

  • Toneop facebook page
  • toneop linkedin page
  • toneop twitter page
  • toneop whatsapp page

आजकल लोग अपने शेड्यूल में इतने व्यस्त हो गए हैं कि उनके पास खुद के लिए समय नहीं है। हमारा व्यस्त जीवन ज़्यादातर रेडीमेड भोजन पर निर्भर होता है। हमारे पास व्यायाम करने का समय नहीं है, जिससे अस्वास्थ्य जीवनशैली पर निर्भर रहना और भी आसान हो जाता है।

यही कारण है कि हर दूसरे पुरुष या महिला को हृदय रोग जैसी गंभीरमेडिकल कंडीशंस होती हैं। हृदय की समस्याओं के पीछे मुख्य कारण LDL कोलेस्ट्रॉल है। LDL कोलेस्ट्रॉल हमारे शरीर के लिए खराब है, और कोरोनरी हृदय संबंधी समस्याओं की संभावना LDL के बढ़ने से शुरू होती है।

हम ToneOp के इस ब्लॉग में समझेंगे की LDL कोलेस्ट्रॉल को घर पर आसानी से कैसे प्रबंधित किया जा सकता है।

विषयसूची

1. कोलेस्ट्रॉल क्या है और कोलेस्ट्रॉल के प्रकार?

2. रक्त सीरम कोलेस्ट्रॉल का सामान्य स्तर

3. हाई कोलेस्ट्रॉल के पीछे के कारण

4. हाई कोलेस्ट्रॉल होने से होने वाली परेशानियाँ?

5. घर पर कोलेस्ट्रॉल कम करने के घरेलू उपाय

6. आहार विशेषज्ञ की सलाह

7. निष्कर्ष 

8. सामान्य प्रश्न 

कोलेस्ट्रॉल क्या है, और इसके प्रकार?

कोलेस्ट्रॉल एक लचीला पदार्थ है जो रक्त में पाया जाता है। आपके शरीर को हैल्दी सेल्स के निर्माण जैसे आवश्यक शारीरिक कार्यों के लिए कोलेस्ट्रॉल की आवश्यकता होती है।

फिर भी, आपके रक्त में हाई कोलेस्ट्रॉल आपके हृदय रोग के जोखिम को बढ़ा सकता है। उदाहरण के लिए, मान लीजिए कि रक्त में हाई कोलेस्ट्रॉल का स्तर है, उस स्थिति में, आपके ब्लड वेसल्स में फैट जमने की संभावना अधिक होती है। समय के साथ ये जमाव रक्त में बढ़ते रहते हैं, जिससे आर्टरीज़ के माध्यम से ब्लड फ्लो करना और भी मुश्किल हो जाता है।

कभी-कभी ये जमाव अचानक खुल सकता है और रक्त के थक्के बना सकता है जिससे दिल का दौरा या स्ट्रोक हो सकता है। इसके अलावा, एक अनहैल्दी जीवनशैली अक्सर हाई कोलेस्ट्रॉल का कारण बनती है। स्वस्थ आहार, नियमित व्यायाम और दवा से इसका इलाज किया जा सकता है।

कोलेस्ट्रॉल के प्रकार

कोलेस्ट्रॉल आपके रक्त के माध्यम से ले जाया जाता है और प्रोटीन से जुड़ा होता है। प्रोटीन और LDL कोलेस्ट्रॉल के इस संगठन को लिपोप्रोटीन के रूप में जाना जाता है। लिपोप्रोटीन 2 प्रकार के होते हैं:

लो-डेंसिटी लिपोप्रोटीन (LDL) - "बेड" LDL कोलेस्ट्रॉल आपके पूरे शरीर में एलडीएल कोलेस्ट्रॉल वेस्ट को ट्रांसपोर्ट करता है। एलडीएल कोलेस्ट्रॉल आर्टरीज़ की परत के भीतर जमा हो जाता है, जिससे वे छोटे हो जाते हैं।

हाई-डेंसिटी लिपोप्रोटीन (HDL) - HDL, "गुड" कोलेस्ट्रॉल, अतिरिक्त HDL कोलेस्ट्रॉल को आपके लिवर तक ले जाता है।

एक लिपिड प्रोफाइल भी आमतौर पर रक्त के भीतर ट्राइग्लिसराइड्स और फैट को मापता है। अत्यधिक ट्राइग्लिसराइड्स भी कोरोनरी हार्ट डिसीज़ की संभावना को बढ़ा सकते हैं।

ब्लड सीरम कोलेस्ट्रॉल का सामान्य स्तर

उम्र के साथ कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ता है। समय के साथ उन्हें खतरनाक रूप से हाई होने से रोकने के लिए जीवन में पहले स्वस्थ स्तर तक पहुँचने या बनाए रखने के लिए आगे बढ़ें। अनियंत्रित कोलेस्ट्रॉल के स्तर का वर्षों तक इलाज करना चुनौतीपूर्ण हो सकता है।

CDC अनुशंसा देता है कि 20 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को हृदय रोग के लिए अन्य जोखिम कारक होने पर हर पाँच साल या उससे अधिक बार अपने कोलेस्ट्रॉल की जाँच करनी चाहिए।

बच्चे हाई कोलेस्ट्रॉल के स्तर से अनजान होते हैं, और डॉक्टर कभी-कभी उन्हें जाँचने का सुझाव दे सकते हैं।

आमतौर पर, पुरुषों में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा महिलाओं की तुलना में अधिक होती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि पुरुषों में कोलेस्ट्रॉल का स्तर उम्र के साथ बढ़ता है, और महिलाओं में मेनोपॉज़ के बाद कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ता है। हालांकि, उम्र बढ़ने के अलावा, कोलेस्ट्रॉल के स्तर में बदलाव आमतौर पर स्वास्थ्य की स्थिति और जीवन शैली के कारकों के कारण होता है।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान (NIH) के अनुसार यह तालिका आयु के अनुसार सामान्य स्वस्थ कोलेस्ट्रॉल स्तर दिखाती है:

 

कोलेस्ट्रॉल के प्रकार

20 वर्ष से कम आयु का कोई भी व्यक्ति

पुरुष 20 वर्ष या उससे अधिक

20 साल और उससे अधिक उम्र की महिलाएं

कुल कोलेस्ट्रॉल

170 mg / dl से कम

125-200 mg / dl

125-200 mg / dl

नॉन-HDL

120 mg / dl से कम

130 mg / dl से कम

130 mg / dl से कम

LDL

100 mg / dl से कम

100 mg / dl से कम

100 mg / dl से कम

HDL

45 mg / dl से कम

40 mg / dl या उच्चतर

50 mg / dl या उच्चतर

 

उच्च कोलेस्ट्रॉल के पीछे का कारण

  • अनहैल्दी खाने की आदतें, जैसे बहुत अधिक खराब फैट खाना। मीट, डेयरी उत्पाद, चॉकलेट, पके हुए सामान और तले और प्रोसेस्ड फ़ूड में सैचुरेटेड फैट होता है। अन्य प्रकार के ट्रांस फैट, कुछ तले हुए और प्रोसेस्ड फ़ूड में भी पाए जाते हैं। इन फैट्स को खाने से LDL (खराब) कोलेस्ट्रॉल बढ़ सकता है।
  • गतिहीन जीवन और शारीरिक गतिविधि की कमी HDL कोलेस्ट्रॉल को कम करती है।
  • धूम्रपान HDL कोलेस्ट्रॉल को कम करता है, खासकर महिलाओं में। यह LDL कोलेस्ट्रॉल को भी बढ़ाता है।
  • हाई कोलेस्ट्रॉल में जेनेटिक्स भी एक महत्वपूर्ण कारक हैं। उदाहरण के लिए, फैमिलियल हाइपरकोलेस्ट्रोलेमिया (FH) हाई कोलेस्ट्रॉल रूप है। इसके अलावा, अन्य मेडिकल कंडीशन और कुछ दवाएँ भी हाई कोलेस्ट्रॉल का कारण बन सकती हैं।

हाई कोलेस्ट्रॉल होने से होने वाली परेशानियाँ

हाई कोलेस्ट्रॉल हमारी आर्टरीज़ में खतरनाक परत निर्माण का कारण बन सकता है।

ये आर्टरीज़ में जमा प्लाक के माध्यम से ब्लड फ्लो को कम कर सकते हैं, जिससे कुछ परेशानियाँ उत्पन्न हो सकती हैं जैसे:

सीने में दर्द

मान लीजिए कि हृदय को रक्त की आपूर्ति करने वाली आर्टरीज़ (कोरोनरी आर्टरीज़) प्रभावित हैं। उस स्थिति में, आपको सीने में दर्द (एनजाइना) और कोरोनरी आर्टरी डिसीज़ के अन्य लक्षणों का अनुभव हो सकता है।

दिल का दौरा

यदि प्लेक फट जाती है, तो प्लेक के फटने के स्थान पर रक्त का थक्का बन सकता है, रक्त प्रवाह को अवरुद्ध कर सकता है या नीचे की ओर की आर्टरी को विस्थापित और बंद कर सकता है। अगर आपके हृदय के किसी हिस्से में रक्त का प्रवाह रुक जाता है, तो इसके परिणामस्वरूप  दिल का दौरा पद सकता है।

स्ट्रोक  

आपकी आर्टरीज़ में रुकावट के साथ, आपको स्ट्रोक होने की संभावना बढ़ जाती है। यह दिल के दौरे के समान होता है; दोनों ही रुकावटों के कारण होते हैं।

घर पर कोलेस्ट्रॉल कम करने के घरेलू उपाय

चिकित्सक आपके कोलेस्ट्रॉल, लो-डेंसिटी लिपोप्रोटीन (LDL) और हाई-डेंसिटी लिपोप्रोटीन (HDL) कोलेस्ट्रॉल के स्तर की जाँच करने की सलाह देते हैं।

हाई कोलेस्ट्रॉल कोरोनरी हार्ट डिसीज़ का एक कारण है। समग्र और LDL कोलेस्ट्रॉल का हाई लेवल आपके हृदय रोगों के जोखिम को बढ़ाता है, जबकि हाई HDL कोलेस्ट्रॉल का स्तर एक सुरक्षात्मक कारक है। आपका दिन-प्रतिदिन का आहार आपके फिटनेस लक्ष्यों को प्राप्त करने और बनाए रखने में एक महत्वपूर्ण कार्य करता है।

एक संपूर्ण आहार, नियमित व्यायाम, स्वस्थ वज़न और एक स्वस्थ जीवन शैली के माध्यम से हाई कोलेस्ट्रॉल को रोका जा सकता है और कुशलता से इसे प्रबंधित किया जा सकता है। इसके अलावा, आमतौर पर इस्तेमाल किए जाने वाले कुछ रसोई के पदार्थ कोलेस्ट्रॉल के हाई लेवल को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं।

कुछ घरेलू उपाय जो कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद करेंगे

1. धनिया के बीज का पानी पिएं

सुबह इस मुख्य चीज को पीने से आपके शरीर में सही कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ेगा और बढ़ा हुआ LDL कोलेस्ट्रॉल कम होगा। इसके लिए आपको धनिया के साथ पानी को उबाल आने तक गर्म करना है, इसके बाद इसे रात भर के लिए रख दें। फिर सुबह पानी को छान कर पिएं।

2. अपने खाने में हल्दी शामिल करें

हल्दी आपकी आर्टरीज़ में जमा प्लाक को कम करने में मदद करती है। यह अपनी एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज़ के लिए भी जानी जाती जाता है। हल्दी को अपने खाने में शामिल करने से LDL कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद मिल सकती है। संतोषजनक परिणाम के लिए आप सोने से पहले एक ग्लास हल्दी वाला दूध भी पी सकते हैं।

3. कच्चा आंवला खाएं या आंवले का जूस पिएं

प्रतिदिन एक आँवले का सेवन करने से हाई कोलेस्ट्रॉल को काफी कम किया जा सकता है। यह बढ़े हुए LDL कोलेस्ट्रॉल के लिए उपयुक्त उपचारों में से एक है और पोषण से भी भरपूर है। यह शरीर के टिशूज़ के पुनर्जनन में भी मदद करता है।   

4. ग्रीन टी पिएं

रोज़ाना एक कप ग्रीन टी पीने से हाई LDL कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है। साधारण चाय में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को सीमित करने में मदद करते हैं और आपको हल्का और सक्रिय रखते हैं।

5. अलसी का सेवन करें

आप अलसी के बीजों को पीसकर चूर्ण बनाकर दूध के साथ सेवन कर सकते हैं। यह LDL कोलेस्ट्रॉल को आपकी आर्टरीज़ में जमा होने से रोकता है और उनके संक्रमण को कम करता है। इसलिए आपके शरीर पर LDL कोलेस्ट्रॉल के प्रभाव को कम करने के लिए रोज़ाना 30gm अलसी खाना उचित होता है।

6. अधिक सोल्युबल फाइबर खाएं

ओट्स, राइस ब्रान, साइट्रस फल, सेब, स्ट्रॉबेरी, मटर, होल ग्रेन्स और सीड्स जैसे खाद्य पदार्थ सोल्युबल फाइबर से भरपूर होते हैं। ये आपके रक्तप्रवाह में LDL कोलेस्ट्रॉल के अवशोषण को कम करते हैं और इसे बाहर निकालने में आपके शरीर की सहायता करते हैं।

आहार विशेषज्ञ की सलाह

हालांकि शरीर के कुछ कार्यों के लिए कोलेस्ट्रॉल की आवश्यकता होती है, लेकिन इसकी अधिकता आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकती है। आहार विशेषज्ञ के रूप में, मैं अधिक विटामिन, मिनरल, प्रोटीन, डाइटरी फाइबर, ओमेगा 3 और ओमेगा 6 शामिल करने का सुझाव देती हूँ। आप घर पर अपने कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने के लिए अनुशंसित उपायों का भी पालन कर सकते हैं। लेकिन अगर आपके कोलेस्ट्रॉल का स्तर काफी अधिक है, तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।

 

-डाइटीशियन लवीना चौहान

निष्कर्ष 

उम्र के साथ कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ता है, और हाई कोलेस्ट्रॉल किसी भी उम्र में हार्ट स्ट्रोक के जोखिम को बढ़ाता है। स्वस्थ स्तरों तक पहुँचने या बनाए रखने के लिए जीवनशैली में बदलाव की आवश्यकता हो सकती है; यदि ये अपर्याप्त हैं, तो आपकी सहायता के लिए निर्धारित दवाएँ प्राप्त करें। 20 से अधिक युवकों को हर 4 से 6 साल में अपने कोलेस्ट्रॉल के स्तर की जाँच करनी चाहिए।

सामान्य प्रश्न

1. क्या सिर्फ डाइट से कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल किया जा सकता है?

मान लीजिए कि आपके कोलेस्ट्रॉल का स्तर सामान्य से थोड़ा अधिक है। उस स्थिति में, आप इसे आहार और घरेलू उपचार के माध्यम से नियंत्रित कर सकते हैं, लेकिन यदि आपके रक्त में कोलेस्ट्रॉल का स्तर बहुत अधिक है, तो आपको विशेषज्ञ मार्गदर्शन की आवश्यकता हो सकती है।

2. कोलेस्ट्रोल के हाई लेवल के मुख्य कारण क्या हैं?

विभिन्न कारक हाई ब्लड कोलेस्ट्रॉल में योगदान करते हैं, जिनमें जीवनशैली कारक जैसे धूम्रपान, अनहैल्दी डाइट और व्यायाम की कमी, और हाई ब्लड प्रेशर या मधुमेह जैसी अंतर्निहित स्थिति शामिल है।

3. क्या नियमित रूप से टहलना कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करता है?

आप शारीरिक गतिविधि से अपने कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम कर सकते हैं। विभिन्न व्यायाम LDL के स्तर को कम करने में मदद कर सकते हैं, जैसे चलना, दौड़ना, साइकिल चलाना और तैराकी करना। इसके अलावा, ये अभ्यास अक्सर किसी व्यक्ति के HDL कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाने में मदद कर सकते हैं।

4. क्या पानी पीने से कोलेस्ट्रॉल कम होता है?

किसी भी अध्ययन से यह नहीं पता चला है कि पानी या कोई भी तरल पदार्थ कोलेस्ट्रॉल में मदद कर सकते हैं या हृदय रोग के जोखिम को कम कर सकता हैं।

5. क्या सेब खाना कोलेस्ट्रॉल कम करने में मददगार है?

नए अध्ययन के अनुसार, दिन में दो सेब खाने से हाई कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद मिल सकती है। शोधकर्ताओं का मानना ​​​​है कि सेब के हाई फाइबर और सूक्ष्म पोषक तत्व, जिनमें पॉलीफेनोल्स नामक लाभकारी कंपाउंड शामिल हैं, जो कई लाभ प्रदान करते हैं।

हमारे आहार योजनाओं, व्यंजनों और बहुत कुछ तक पहुंचने के लिए ToneOp डाउनलोड करें।

Android userhttps://bit.ly/ToneopAndroid

Apple user-   https://apple.co/38ykc9H

 

Subscribe to Toneop Newsletter

Simply enter your email address below and get ready to embark on a path to vibrant well-being. Together, let's create a healthier and happier you!

Download our app

Download TONEOP: India's Best Fitness Android App from Google Play StoreDownload TONEOP: India's Best Health IOS App from App Store

Comments (0)


Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Explore by categories