आयरन की कमी से होने वाली 5 बीमारियां और आयरन डिफिशिएंसी के कारण जानिए!

Hindi

Updated-on

Published on: 10-Jul-2024

Min-read-image

10 min read

views

134 views

profile

Vishalakshi Panthi

Verified

आयरन की कमी से होने वाली 5 बीमारियां और आयरन डिफिशिएंसी के कारण जानिए!

आयरन की कमी से होने वाली 5 बीमारियां और आयरन डिफिशिएंसी के कारण जानिए!

share on

  • Toneop facebook page
  • toneop linkedin page
  • toneop twitter page
  • toneop whatsapp page

आयरन की कमी एक प्रचलित न्यूट्रिशन संबंधी समस्या है जो कई गंभीर हेल्थ कंडीशन्स को जन्म दे सकती है, जिससे दुनिया भर में लाखों लोग प्रभावित हो सकते हैं। विकासशील देशों में आयरन की कमी आम तौर पर देखी जाती है, खासकर उन समाजों में जहां भोजन, चिकित्सा देखभाल और स्वच्छता तक सीमित पहुंच है। गरीबी, कुपोषण, संक्रामक रोग और प्रीनेटल केयर में कमी जैसे कारक इन क्षेत्रों में आयरन की कमी में योगदान करते हैं। आयरन हीमोग्लोबिन के उत्पादन के लिए एक महत्वपूर्ण मिनरल है, जो ब्लड में ऑक्सीजन के परिवहन के लिए आवश्यक है। जब शरीर में आयरन की कमी हो जाती है, तो इसके परिणामस्वरूप कई बीमारियां हो सकती हैं, जिनमें एनीमिया, दिमाग से जुडी समस्याएं आदि शामिल हैं। इस प्रकार, आयरन की कमी से होने वाली बीमारियां पूरे स्वास्थ्य के लिए पर्याप्त आयरन स्तर बनाए रखने के महत्व पर प्रकाश डालती हैं। आयरन की कमी को बेहतर ढंग से समझने के लिए और इसके कारण और इससे होने वाली बीमारियों को जानने के लिए ब्लॉग को पूरा पढ़ें।

विषय सूची 

1. आयरन की कमी से होने वाली 5 बीमारियां 

2. आयरन की कमी के मुख्य कारण क्या हैं?

4. आहार विशेषज्ञ की सलाह

5. निष्कर्ष

6. सामान्य प्रश्न 

7. संदर्भ 

आयरन की कमी से होने वाली 5 बीमारियां


आयरन की कमी से कई गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं, मुख्य रूप से हीमोग्लोबिन के उत्पादन में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका के कारण, जो रक्त में ऑक्सीजन के परिवहन के लिए आवश्यक है। आइए आयरन की कमी से जुड़ी इन मुख्य हेल्थ कंडीशन पर चर्चा करें:

1. एनीमिया 

यह एक बहुत ही आम स्थिति है जो आयरन की कमी से होती है। यह तब होता है जब शरीर में पर्याप्त मात्रा में हीमोग्लोबिन तैयार करने के लिए पर्याप्त आयरन ना हो। थकान, पेल स्किन, कमज़ोरी, सांस लेने में समस्या, डिज़ीनेस और ठंड लगना इसके कुछ मुख्य लक्षण हैं। इसमें रेड ब्लड सेल सिकुड़ जाते हैं और ऑक्सीजन को ले जाने की क्षमता कम हो जाती है। 

2. दिमाग से जुडी परेशानियां

ब्रेन फंक्शन और विकास के लिए पर्याप्त मात्रा में आयरन होना ज़रूरी है। आरन की कमी से कॉग्निटिव एबिलिटी प्रभावित होती है, खासकर बच्चों और किशोरों की। लर्निंग डिसेबिलिटी, कमज़ोर याददाश्त और सोचने की क्षमता कमज़ोर होना इसके कुछ लक्षण हैं। 

3. संक्रमण के प्रति संवेदनशीलता बढ़ना 

आयरन हेल्दी इम्यून सिस्टम के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इसकी कमी से आपका इम्यून रिस्पॉन्स कमज़ोर होता है, जिससे आपका शरीर संक्रमण के लिए संवेदनशील हो जाता है। वायरल और पैरासिटिक इंफेक्शन, लंबे समय का दर्द और रिलैप्स रेट हाई होना इसके लक्षण हैं। 

4. प्रेगनेंसी में कॉम्पलीकेशंस 

प्रेगनेंट महिलाओं को आयरन की बहुत ज़रूरत होती है और इसकी कमी से मां और बच्चे दोनों को खतरा रहता है। आयरन की कमी से मेटरनल एनीमिया होने का खतरा रहता है, प्रीमेच्योर बर्थ, बच्चे का वज़न कम होना और मेटरनल मॉर्टेलिटी आयरन की कमी के कुछ लक्षण हैं।

5. कार्डियोवैस्कुलर डिज़ीज़

आयरन टिशू में ऑक्सिजन का संचार करने में मदद करता है। इसकी कमी से कार्डियोवैस्कुलर सिस्टम प्रभावित होता है। हार्ट डिज़ीज़, हार्ट फेलियर और एरिथमिया इसके लक्षण हैं। आयरन की कमी से हार्ट फेल होने का खतरा, ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस और एंडोथेलियल डिसफंक्शन भी इसमें शामिल हैं।

ये भी पढ़ें- The Ultimate List Of Foods Rich In Iron With 7-Day Diet Plan For Anaemic Patients

आयरन की कमी के मुख्य कारण क्या हैं?

आयरन की कमी के पांच मुख्य कारण हैं:

कारण 

विवरण

उदाहरण

आयरन युक्त खाद्य पदार्थों का अपर्याप्त आहार सेवन


पर्याप्त मात्रा में आयरन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन न करना।


खाद्य पदार्थ जैसे पोल्ट्री, रेड मीट, फिश, हरी पत्तेदार सब्ज़ियां और बीन्स 

लगातार खून की कमी 

लंबे समय तक खून की कमी से आयरन की कमी हो सकती है।


इसका कारण गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ब्लीडिंग और अन्य मेडिकल कंडीशन हो सकती हैं। 

आयरन का अवशोषण खराब होना 

शरीर की आयरन अवशोषित करने की क्षमता कम होना, खासकर गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल डिसऑर्डर के कारण हो सकता है। 

डिसऑर्डर: इन्फ्लेमेटरी बाउल डिज़ीज़, सीलिएक डिज़ीज़।

आयरन की ज़रूरतें बढ़ना 

जीवन के कुछ दौर अधिक आयरन मांगते हैं।

स्टेज: इन्फैंसी, प्रेगनेंसी, अडोलेसेंस।

आहार से आयरन की खराब जैवउपलब्धता


विभिन्न कारकों के कारण भोजन से आयरन आसानी से अवशोषित नहीं होता है।


कारक: विटामिन सी जैसे बढ़ाने वाले पदार्थों का कम सेवन, फाइटेट्स और टैनिन जैसे अवरोधकों की उपस्थिति।

ये भी पढ़ें- Vitamin Deficiency Causes, Reasons & Tips For Hair Loss

आहार विशेषज्ञ की सलाह 

आयरन युक्त खाद्य पदार्थ जैसे लीन प्रोटीन, पोल्ट्री, फिश, लेजुम्स और हरी पत्तेदार सब्ज़ियां आयरन की कमी को पूरा कर सकते हैं। इन पौष्टिक खाद्य पदार्थों को विटामिन सी के स्रोत जैसे दूध, दही आदि  के साथ अपने आहार में शामिल करने से आयरन को अवशोषित करने में मदद मिलती है। यदि आप किसी रिस्क में हैं तो आप मेडिकल सुपरविज़न में आयरन के सप्लीमेंट ले सकते हैं।

                                                                             डॉ. अक्षता गांडेवीकर

निष्कर्ष

आयरन की कमी का प्रभाव दूरगामी और प्रभावी हो सकता है। आयरन की कमी के कारणों और परिणामों को समझकर और निवारक उपायों और उपचारों को लागू करके, हम इसके नकारात्मक प्रभावों को कम कर सकते हैं और लोगों के स्वास्थ्य में सुधार कर सकते हैं।

सामान्य प्रश्न 

1. आयरन की कमी के सामान्य लक्षण क्या हैं?

आयरन की कमी से होने वाले सामान्य लक्षणों में थकान, कमज़ोरी, पेल स्किन, सांस लेने में समस्या, डिज़िनेस और नाजुक नाखून हैं। इसके अलावा आप सिर दर्द, ठंडे हाथ-पैर और असामान्य क्रेविंग होना शामिल हैं। 


2. आयरन की कमी का निदान कैसे करें?

आयरन की कमी का निदान ब्लड टेस्ट के ज़रिए किया जाता है जो हीमोग्लोबिन, हेमटोक्रिट और फेरिटिन के स्तर को मापता है। 


3. कौन से खाद्य पदार्थ आयरन के अच्छे स्रोत हैं?

आयरन के बेहतरीन स्रोत में शामिल हैं-

  • लीन प्रोटीन

  • फिश

  • बीन्स

  • टोफू

  • पालक 

  • आयरन-फोर्टिफाइड सीरियल्स

संदर्भ 

ToneOp क्या है?

ToneOp  एक हेल्थ एवं फिटनेस एप है जो आपको आपके हेल्थ गोल्स के लिए एक्सपर्ट द्वारा बनाये गए हेल्थ प्लान्स प्रदान करता है। यहाँ 3 कोच सपोर्ट के साथ-साथ आप अनलिमिटेड एक्सपर्ट कंसल्टेशन भी प्राप्त कर सकते हैं। वेट लॉस, मेडिकल कंडीशन, डिटॉक्स  जैसे हेल्थ गोल्स के लिए डाइट, नेचुरोपैथी, वर्कआउट और योग प्लान्स की एक श्रृंखला के साथ, ऐप प्रीमियम स्वास्थ्य ट्रैकर, रेसिपी और स्वास्थ्य सम्बन्धी ब्लॉग भी प्रदान करता है। अनुकूलित आहार, फिटनेस, प्राकृतिक चिकित्सा और योग प्लान प्राप्त करें और ToneOp के साथ खुद को बदलें।

Subscribe to Toneop Newsletter

Simply enter your email address below and get ready to embark on a path to vibrant well-being. Together, let's create a healthier and happier you!

Download our app

Download TONEOP: India's Best Fitness Android App from Google Play StoreDownload TONEOP: India's Best Health IOS App from App Store

Comments (0)


Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Explore by categories